कैलेंडर कॉल स्प्रेड ट्रेडिंग कैसे करते है? जानिये हिंदी में



आप कवर कॉल ऑप्शन रणनीति (Covered Call Option Strategy) से परिचित हो सकते हैं जिसमें निवेशक सिर्फ उन ईटीएफ (ETFs) या स्टॉक्स (Stocks) के लिए कॉल ऑप्शंस (Call Options) की एकत्रित बिक्री कर सकता है जिसका वह मालिक होता है। लेकिन कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) आपको अंडरलाइंग एसेट को ख़रीदे बिना वही काम करने की अनुमति देता है। इसलिए आय उत्पन्न करने की उम्मीद में आपकी कम रकम जोखिम में होती है। कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) को निकट-अवधि के ऑप्शन में होने वाले समय- क्षय (Options Time Decay) से लाभ कमाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यदि अंतर्निहित (Underlying) मौजूदा कीमत से किसी भी दिशा में दूर चला जाता है तो कॉल स्प्रेड मूल्य (Call Spread Value) में गिरावट शुरू हो जाती है। इस ब्लॉग में, हमने इस बारे में विवरण दिया हैं।


इस ब्लॉग में आप आगे पढ़ेंगे,

  • कैलेंडर स्प्रेड क्या है? (What Is Calendar Spread In Hindi?)

  • कैलेंडर कॉल स्प्रेड क्या है? (What Is A Calendar Call Spread? In Hindi)

  • कैलेंडर कॉल स्प्रेड कैलकुलेटर (Calendar Call Spread Calculator)

  • ट्रेडिंग कैलेंडर कॉल स्प्रेड (Trading Calendar Call Spread)

  • कैलेंडर कॉल स्प्रेड ऑप्शन रणनीति। (Calendar Call Spread Options Strategy)

कैलेंडर स्प्रेड क्या है? (What Is Calendar Spread In Hindi?)

एक ही अंडरलाइंग एसेट पर एक ही स्ट्राइक मूल्य (Strike Price) पर लेकिन अलग-अलग समाप्ति तिथियों (Expiration Date) के साथ एक लॉन्ग और शार्ट स्थिति (Position) में प्रवेश करना कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) कहलाता है। इसे कभी-कभी हॉरिजॉन्टल स्प्रेड (Horizontal Spread) के रूप में जाना जाता है।


कैलेंडर कॉल स्प्रेड क्या है? (What Is A Calendar Call Spread? In Hindi)

एक ही स्ट्राइक मूल्य के लेकिन अलग समाप्ति तिथि (Expiration Date) के लॉन्ग कॉल (Long Call) ऑप्शन को खरीदने के साथ-साथ एक शॉर्ट कॉल (Short Call) ऑप्शन को बेचने की ऑप्शन रणनीति (Option Strategy) को कैलेंडर कॉल स्प्रेड (Calendar Call Spread) कहा जाता है।



कैलेंडर स्प्रेड एक वर्टिकल स्प्रेड (Vertical Spread) से अलग है जिसमें एक ही प्रकार के और एक ही समाप्ति (Expiry) के लेकिन अलग-अलग स्ट्राइक मूल्य के ऑप्शन को खरीदना और बेचना शामिल है । वर्टिकल स्प्रेड को इसलिए वर्टिकल स्प्रेड कहा जाता है क्योंकि स्ट्राइक की कीमतों को छोड़कर सब कुछ समान होता है जबकि कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) को कभी-कभी हॉरिजॉन्टल स्प्रेड (Horizontal Spread) कहा जाता है क्योंकि केवल एक्सपायरी साइकिल (Expiry Cycle) ही एक अलग चीज है।




कैलेंडर स्प्रेड कैलकुलेटर (Calendar Spread Calculator Hindi)

विभिन्न कैलेंडर स्प्रेड कैलकुलेटर (Calendar Spread Calculator) उपलब्ध हैं जो आपको विशिष्ट शर्तों को इनपुट करने पर कैलेंडर स्प्रेड का सटीक मूल्य देते हैं। समय के साथ अनुमानित लाभ और हानि (Profit and Loss) को देखने के लिए कैलेंडर स्प्रेड कैलकुलेटर का उपयोग किया जाता है। बुल कॉल स्प्रेड (Bull Call Spread) के लिए अधिकतम लाभ की गणना निचे दिए गए तरीके से की जा सकती है:


अधिकतम लाभ (Max Profit) = 
(स्ट्राइक मूल्य पे बेचा गया कॉल ऑप्शन – स्ट्राइक मूल्य पर खरीदा गया कॉल ऑप्शन)  (बुल कॉल स्प्रेड के लिए किया गया प्रीमियम भुगतान)

ट्रेडिंग कैलेंडर कॉल स्प्रेड (Trading Calendar Call Spread Hindi)

हमने कैलेंडर स्प्रेड और कैलेंडर कॉल स्प्रेड क्या है देखा। अब हम, कैलेंडर कॉल स्प्रेड का व्यापार (Trading Calendar Call Spread) कैसे करते है इसके बारे में बात करेंगे। आगे हम एक कैलेंडर कॉल स्प्रेड के व्यापार की बारीकियों पर चर्चा करने जा रहे हैं।

जब एक लॉन्ग कैलेंडर स्प्रेड (Long Calendar Spread) एक निश्चित सीमा के अंदर अंतर्निहित स्टॉक (Underlying Stock) में थोड़ा अधिक ऊपर जाता है तो लाभ मिलता है।

जैसे ही स्टॉक धीरे-धीरे ऊपर बढ़ना करना शुरू करते हैं, तो आपको या तो दिशात्मक स्प्रेड (Directional Spread) का व्यापार करने या इनमें से कुछ कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) का व्यापार करने की आवश्यकता होती है।


कैलेंडर कॉल स्प्रेड ऑप्शन रणनीति (Calendar Call Spread)

एक विशिष्ट कैलेंडर स्प्रेड रणनीति एक लंबी अवधि के कॉन्ट्रैक्ट को खरीदने और समान स्ट्राइक मूल्य के साथ निकट अवधि के ऑप्शन को बेचने के अलावा और कुछ नहीं है। इस रणनीति में फ्रंट मंथ ओटीएम कॉल (OTM Call) को बेचना और बैक- मंथ ओटीएम कॉल को समान स्ट्राइक कीमतों (Strike Price) पर खरीदना शामिल होता है ।

आप इस रणनीति को निम्न तरीके से सेट कर सकते हैं:


इस रणनीति के अनुसार सबसे पहले आप एक महीने के आउट-ऑफ-द-मनी कॉल ऑप्शन (Out-of -The-Money Call Option) को बेचेंगे। फ्रंट-मंथ का ऑप्शन उस स्थान के थोड़ा करीब होगा जहां बाजार कारोबार कर रहा है। इसके बाद, आप एक अधिक महंगा पिछले - महीने का ऑप्शन खरीदते हैं। ताकि आउट-ऑफ-द-मनी कॉल पर आउट होने वाला अगले महीने का ऑप्शन ठीक उसी स्ट्राइक मूल्य पर स्प्रेड हो जाए। यहां आप दो अलग-अलग महीनों में व्यापार करते है, लेकिन ठीक समान स्ट्राइक मूल्य को ही पिन करते हैं।


इस कैलेंडर कॉल स्प्रेड ऑप्शन रणनीति में क्या जोखिम है?

इन कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) में आपका जोखिम स्प्रेड के लिए भुगतान किए गए शुद्ध डेबिट तक ही सीमित होता है। यदि आपने अपने कैलेंडर के लिए ₹१५० का डेबिट भुगतान किया है, तो आपका जोखिम केवल ₹१५० तक सीमित है, आप इससे अधिक पैसा नहीं खो सकते हैं।


कैलेंडर कॉल स्प्रेड ऑप्शन रणनीति की लाभ क्षमता क्या है?

पिछले महीने के ऑप्शन में समय के साथ गिरावट (Time Decay) के कारण आपके लाभ का सटीक अंदाजा लगाना इन रणनीतियों के साथ बहुत कठिन हो सकता है। आदर्श रूप से, आपका लक्ष बेचे गए इस-महीने के कॉन्ट्रैक्ट के मूल्य पर अपने लाभ को अर्जित करना है। यदि आपने ₹५० में इस महीने का कॉन्ट्रैक्ट बेचा है और आपने ₹१५० में पिछले महीने का कॉन्ट्रैक्ट खरीदा है, तो आप ₹५० के आसपास लाभ (Profit) की तलाश करेंगे। यदि स्टॉक, समाप्ति तिथि (Expiry Date) पर स्ट्राइक मूल्य पर स्थिर होता है तो लाभ अधिकतम होने वाला होता है। आप समाप्ति के जितने करीब पहुंचेंगे, उतनी ही तेजी से लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।

कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) के साथ, ब्रेक ईवन पॉइंट (Break Even Point) की गणना करना बहुत कठिन है क्योंकि इसकी गणना करने के लिए कई मानक उपलब्ध है। ऑर्डर देने से पहले आपको ट्रेड का विश्लेषण (Trade Analysis) जरूर करना चाहिए।

जब वोलैटिलिटी (Volatility) बढ़ती है तो इसका इस रणनीति पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा, यह देखते हुए कि बाकी सब कुछ समान है। वोलैटिलिटी पिछले महीने केऑप्शन के मूल्य में अधिक वृद्धि दिखाती है जो लॉन्ग होते हैं। जबकि बढ़ी हुई वोलैटिलिटी का आगे वाले महीने के ऑप्शन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है जो कि शॉर्ट होते हैं।


निष्कर्ष (Conclusion)

इस ब्लॉग में हमने कैलेंडर कैलेंडर कॉल स्प्रेड के बारे में हिंदी (Calendar Call Spread Hindi) में जानकारी ली। कैलेंडर स्प्रेड (Calendar Spread) को निकट अवधि (Near-Term) के ऑप्शन में होनेवाले समय के क्षय (Time Decay) से लाभ के लिए डिज़ाइन किया गया है। कैलेंडर स्प्रेड वर्टिकल स्प्रेड से अलग होता है। यदि स्टॉक समाप्ति पर स्ट्राइक मूल्य (Strike Price) पर स्थिर होता है तो लाभ अधिकतम होने वाला है। इस तरह आप अपने लाभ को अधिकतम करने के लिए कैलेंडर कॉल स्प्रेड ऑप्शन रणनीति का उपयोग कर सकते हैं।




293 views0 comments

Recent Posts

See All