शेयर मार्केट व्यापारिओं के लिए महात्मा गांधीजी के अनमोल वचन


शेयर मार्केट व्यापारिओं के लिए महात्मा गांधीजी के अनमोल वचन
“अगर मुझे विश्वास है कि मैं यह कर सकता हूँ, तो मैं निश्चित रूप से उसे प्राप्त करूंगा।” ~महात्मा गांधी

भारत के स्वतंत्रता संग्राम के महत्वपूर्ण नेता महात्मा गांधी को दुनिया के लिए एक वैचारिक प्रेरणा के रूप में देखा जाता है। उनके जीवन दर्शन ने वर्षों से लोगों को प्रेरित करना जारी रखा है। उनके सिद्धांत आज भी विशिष्ट रूप से प्रासंगिक हैं और हम उनसे अपने जीवन के विभिन्न पहलुओं में प्रेरणा प्राप्त कर सकते हैं। बापू का सबसे खास गुण यह था कि उन्होंने सबसे दमनकारी शासन के खिलाफ अहिंसक दृष्टिकोण अपनाया और प्रगतिशील सामाजिक-आर्थिक मुद्दों को बढ़ावा दिया। गांधीजी के जीवन और विचारों से सीखने के लिए यहां कुछ मूल्यवान निवेश सबक दिए गए हैं।


गांधीजी के जीवन और विचारों से सीखने के लिए मूल्यवान निवेश सबक


अभ्यास अधिक और उपदेश कम करे

गांधीजी अपना अधिकांश समय शब्दों के बजाय कार्यों में लगाते थे। उसी तरह,हमें सिर्फ योजना बनाते बैठने से अच्छा तुरंत काम पर लग जाना चाहिए । जो सोचा हे उसे आज से ही शुरुआत करें क्योंकि आप आज जो करते हैं (आज आप कितना निवेश करते है) कल की तुलना में बहुत अधिक महत्वपूर्ण है।


जीवन में केवल गति बढ़ाने के अलावा और भी बहुत कुछ महत्वपूर्ण है

गांधीजी का एकमात्र लक्ष्य भारत को ब्रिटिश राज से मुक्त करना था, जिसे उन्होंने कई वर्षों के धैर्य और दृढ़ता के बाद हासिल किया। इसी तरह, किसी को अपने वित्तीय लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए स्थिर और विविध कदम उठाने की जरूरत है। निवेश करते समय धैर्य और स्थिरता बहुत महत्वपूर्ण है। निश्चित लघु और दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्य रखना एक अच्छा विचार है।


जोखिम और रिटर्न को संतुलित करे

हमें कम-ज्ञात फर्मों द्वारा दी जाने वाली संदिग्ध योजनाओं के झांसे में नहीं आना चाहिए जो हमें त्वरित धन का सपना दिखाती हैं। न ही हमें अपनी सारी बचत किसी जोखिम भरी दिखने वाली योजना में निवेश करनी चाहिए। डेल्टा ट्रेडिंग निवेश के जोखिम को संतुलित रखने में उपयुक्त योजना साबित होती है। डेल्टा ट्रेडिंग से आपके नुकसान को सिमित रखा जा सकता है। आप विभिन्न म्यूचुअल फंड्स में भी निवेश कर सकते हैं जिनमें जोखिम और बाजार निर्भरता के विभिन्न स्तर होते हैं।


अपने लोभ को खुद पर हावी न होने दे

जल्दी पैसा कमाने की इच्छा इंसान को उन संदिग्ध योजनाओं का शिकार बना सकती है जो बड़े रिटर्न का वादा करती हैं। इस तरह के आवेगपूर्ण निवेश आपके धन को समाप्त कर सकते हैं। जोखिम-वापसी अनुपात को संतुलित करने के बाद किसी विश्वसनीय योजना में निवेश करना हमेशा अच्छा होता है।


कठिन परिस्स्थितियो में खुदको ज़िद्दी बनाये रखे

स्वतंत्रता संग्राम दशकों तक चला और गांधीजी को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने अपने विश्वास पे से विश्वास नहीं खोया कि भारत एक स्वतंत्र पंछी हो सकता है। यहां तक ​​​​कि किसी के वित्तीय लक्ष्य को प्राप्त करने का मार्ग भी उतार-चढ़ाव से भरा होता है। व्यक्ति को अपने विश्वास पर हमेशा विश्वास रखना चाहिए। शेयर बाजार में निवेश करते समय, कठिन बाजार स्थितियों के दौरान आशा को जीवित रखना चाहिए, और जितनी जल्दी हो सके अपने गलतियों की पहचान करनी चाहिए। गांधीजी अक्सर कहते थे कि आजादी का कोई मूल्य नहीं है अगर यह आपको गलती करने की आजादी नहीं देती है। अगर मनुष्य कुछ सीखना चाहे तो उसकी हर भूल उसको कोई न कोई पाठ सीखा सकती है।

आपका संघर्ष ही आपको ताकतवर बनाता है। ताकत वह है जब आप कठिनाइयों से गुजरने के बावजूद भी हार न मानने का निर्णय लेते हैं। भारत की स्वतंत्रता के लिए महात्मा गांधी के संघर्ष ने दुनिया को अविश्वसनीय धैर्य, आत्म-विश्वास और स्वतंत्रता के लक्ष्य के प्रति दृढ़ता सिखाई है। उनके जन्मदिन के अवसर पर ट्रेडर्स इस महान व्यक्ति के उपदेशों को देखें और पता करें कि वे हमारे निवेश और वित्तीय निर्णयों में हमारा मार्गदर्शन कैसे कर सकते हैं।

557 views0 comments

Recent Posts

See All