इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए सर्वश्रेष्ठ समय सीमा



इंट्राडे ट्रेड करने के लिए, आपको त्वरित निर्णय लेने होंगे और अपने ऑर्डर को गति के साथ निष्पादित करना होगा। आपको अधिक धन के आकर्षण को नियंत्रित करना होगा और शेयर बाजार में अति-व्यापार नहीं करना होगा। जब आप इंट्राडे ट्रेडिंग करते हैं, तो आप केवल एक टाइम-फ्रेम चार्ट के साथ ट्रेड नहीं कर सकते। तकनीकी विशेषज्ञ आवश्यक व्यापारिक निर्णय लेने के लिए एक ही स्टॉक के चार्ट के संयोजन को देखते हैं। प्रत्येक चार्ट एक विविध समय सीमा में है और स्टॉक प्रवृत्ति और आंदोलन की पूरी तस्वीर प्रदान करता है। लंबी अवधि के इंट्राडे व्यापारियों के लिए सर्वोत्तम समय सीमा खोजना बहुत फायदेमंद होता है। अनुभवी इंट्राडे ट्रेडर्स को अपने पैसे का भारी नुकसान हो सकता है यदि वे इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए सर्वोत्तम समय सीमा के बाहर ट्रेड करते हैं। इसलिए यह सवाल आता है कि इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए सबसे अच्छी समय सीमा क्या है?


सर्वोत्तम समय सीमा का चयन करतेसमय ध्यान रखने योग्य बातें

प्रत्येक व्यापारिक निर्णय कुछमहत्वपूर्ण कारकों पर किया जाना है। जैसे स्टॉक में प्रवेश करने और बाहर निकलने के लिए प्रमुख समर्थन और प्रतिरोध स्तरों के साथ स्टॉक का रुझान।


स्टॉक का रुझान

प्रवृत्ति के साथ व्यापार करने से आप जल्दी से लाभ कमा सकते हैं और बार-बार स्टॉप लॉस नहीं तक नहीं जाते हैं। बाजार के रुझान को जानने के लिए, आपको इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय 60 मिनट के चार्ट का उपयोग करना होगा। यह सबसे बड़ी समय सीमा है जिसे आप एक दिन के व्यापार के लिए उपयोग कर रहे हैं और इस समय सीमा से स्टॉक की प्रचलित प्रवृत्ति की जांच की जा सकती है।


समर्थन और प्रतिरोध स्तर

ये प्रमुख क्षेत्र हैं जहां मांग और आपूर्ति के बीच बहुत अधिक असमानता होती हैं, जिसके कारण भारी रैली या कीमत में गिरावट आती हैं । ये उच्च संभावना वाले व्यापारिक क्षेत्र हैं। व्यापार में प्रवेश करने और बाहर निकलने के लिए प्रमुख समर्थन और प्रतिरोध स्तरों का पता लगाने के लिए 15 मिनट की समय सीमा चार्ट का उपयोग किया जाता है। 5 मिनट चार्ट का उपयोग स्तरों को थोड़ा छोटा करने के लिए है ताकि आपके पास एक बड़ा स्टॉप लॉस न हो। ये तीन टाइम फ्रेम संयुक्त रूप से आपको शेयर बाजार में उच्च संभावना वाले इंट्राडे ट्रेड करने देते हैं।

क्या आप पहले पंद्रहमिनट में व्यापार कर सकते हैं?

शेयर बाजार का एक से दो घंटे खुला रहना इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए सबसे अच्छी समय सीमा है। भारत में अधिकांश स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग चैनल सुबह 9:15 बजे से खुलते हैं। तो क्यों न 9:15 से शुरू करें?


यदिआप एक अनुभवी व्यापारी हैं, तो पहले 15 मिनट के भीतर व्यापार करना उतना जोखिम भरा नहीं हो सकता है। शुरुआती लोगों के लिए, 9:30 तक प्रतीक्षा करने की अनुशंसा की जाती है। इसके पीछे कारण यह है कि बाजार खुलने के पहले कुछ मिनटों में शेयर पिछली रात की खबर पर प्रतिक्रिया दे रहे होते हैं। अनुभवी व्यापारी पहले 15 मिनट मेंकुछअच्छे ट्रेड कर सकते हैं। वे आमतौर पर अत्यधिक उच्च या निम्न मूल्य बिंदुओं का लाभ उठाते हैं और इसे विपरीत दिशा में उलट देते हैं।


शुरुआती लोगों के लिए, जिन्हें “डम्ब मनी“ की घटना के बारे में कोई जानकारी नहीं है, या अनुभवी व्यापारियों द्वारा इसके खिलाफ पीछे धकेलने की रणनीति के बारे में पता नहीं है, बाजार अत्यधिक अस्थिर दिखाई देगा। इसलिए, 9:30 बजे तक प्रतीक्षा करना, 9:15 बजे शुरू करने की तुलना में अधिक सुरक्षित है।


बाजार के खुलने पर ट्रेडिंग

अस्थिरता हमेशा खराब नहीहोती हैं है। शुरुआती चरमट्रेड्स के बाद नये लोगो को आवश्यक वैसी स्थिरता आ जाती हैंI इस बातको ध्यान में रखते हुए, सुबह 9:30 से 10:30 बजे के बीच की समय सीमा ट्रेड करने के लिए एक आदर्श समय बन जाती है। बाजार खुलने की शुरुआत में इंट्राडे ट्रेडिंग के कई लाभ हैं:


पहले घंटे आमतौर पर सबसे अधिक अस्थिर होते हैं, जो दिन के सर्वोत्तम व्यापार करने का पर्याप्त अवसर प्रदान करते हैं।

पहला घंटा बाजार मेंआनेऔर जाने के लिए आवश्यक तरलता प्रदान करता है। लिक्विड स्टॉक वॉल्यूम में अधिक होते हैं इसलिए वे तेजी से बिक सकते हैं। पहले घंटे में खरीदे गए या कारोबार किए गए शेयरों को पूरे कारोबारी दिन की सबसे बड़ी चालों में से कुछ के रूप में दिखाया गया है। यदि इसे सही तरीके से किया जाए, तो यह ट्रेडिंग दिवस के दौरान अन्य समयावधियों की तुलना में उच्चतम रिटर्न प्रदान कर सकता है। अगर इसे गलत तरीके से किया गया तो नुकसान बहुत बड़ा हो सकता है।


सुबह 11 बजे के बाद, ट्रेडों में अधिकतर समय लगता है और छोटी मात्रा में ट्रेड होता है।यह इंट्राडे व्यापारियों के लिए एक खराब संयोजन है, जिन्हें दोपहर 3:30 बजे से पहले अपने एक्सचेंजों को निपटाने की आवश्यकता होती है।अगरआपको और समय चाहिए तो इस सत्र को सुबह 11 बजे तक बढ़ा देना फायदेमंद है। हालांकि, किसी के ट्रेड को पहले घंटे तक सीमित रखने की रणनीति दिन के कारोबार के लिए बेहतर है।

231 views0 comments

Recent Posts

See All